जवान ने सियाचिन में फर्जी मुठभेड़ की बात स्वीकारी

जवान ने सियाचिन में फर्जी मुठभेड़ की बात स्वीकारी मेजर के कहने पर इस्तीफा भी दिया



सेना के एक जवान ने शनिवार को यहां एक सैन्य अदालत को बताया कि वह फर्जी मुठभेड़ में शामिल था और शत्रु सेना के जवानों के मारे जाने की उसने गलत सूचना दी थी। जवान ने बताया कि उसे ऐसा करने के लिए मेजर सुरिंदर सिंह ने कहा था। सिंह को इस मामले में आरोपी बनाए जाने के बाद उसने नौकरी से इस्तीफा दे दिया था।नायक भुवन बहादुर थापा ने बताया कि दुश्मन के बंकरों को तैयार करने में यमराज गुरु और आर.बी. थापा ने मदद की थी। इन बंकरों को फर्जी मुठभेड़ में तबाह कर दिया गया था, जिसकी मेजर सिंह ने वीडियोग्राफी की थी। उसने बताया कि राइफलमैन श्याम बहादुर थापा को तबाह बंकर में लेटने को कहा गया और दुश्मन के मृत सैनिक के रूप में उसकी फिल्म तैयार की गई।

भुवन बहादुर थापा ने स्वीकार किया कि उसने २४ अगस्त के फर्जी मुठभेड़ में दुश्मन के एक सैनिक और २१ सिंतबर की फर्जी मुठभेड़ में दो दुश्मन सैनिकों के मारे जाने की गलत रिपोर्ट दी थी। उसने बताया कि २४ अगस्त के मुठभेड़ में वह खुद भी शामिल था। उसने बंकरों पर दो मिसाइल दागी थी, लेकिन वे लक्ष्य चूक गए। बाद में बंकर को रॉकेट दाग कर नष्ट किया गया था।

जवान ने बताया कि उन लोगों को भगवान के सामने शपथ दिलाई गई थी कि कोई भी फरजी मुठभेड़ की बात किसी को नहीं बताएगा। लेकिन फर्जी मुठभेड़ की बात उजागर होने के बाद मेजर सिंह ने उसे व दो अन्य को स्वैच्छिक सेवानिवृति लेने को कहा और उन लोगों ने पिछले साल १ अ1तूबर को इस्तीफा दे दिया। उसने कहा कि हमने इस्तीफा दे दिया था, लेकिन उस पर कुछ भी नहीं हुआ।

थापा तीसरा जवान है जिसने अदालत को सियाचीन में फरजी मुठभेड़ की बात कही है। इससे पूर्व, जेसीओ फतेह बहादुर थापा और हवलदार नीर बहादुर आले ने फरजी मुठभेड़ की बात स्वीकार कर चुके हैं।

दागी मंत्रियों के मसले पर भाजपा का कड़ा रुख, संगठन में मामूली फेरबदल

यूनाइटेड प्रोग्रेसिव एलायंस में शामिल दागी मंत्रियों के मसले पर भारतीय जनता पार्टी के तेवर कड़े हो रहे हैं। पार्टी नेता इस मसले पर सरकार को घेरने की तैयारी कर चुके हैं। मंगलवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण के समय पार्टी इसे जोर-शोर से उठाने के मूड में है। पार्टी प्रव1ता विजय कुमार मलहोत्रा ने कहा कि इस मुद्दे को पार्टी संसद के अंदर और बाहर, दोनों अवसरों पर उठाएगी। उन्होंने कहा कि संसद में विपक्ष के नेता लालकृष्ण आडवाणी को जिस तरह से स8ाा पक्ष के लोगों ने बोलने नहीं दिया उसे देखते हुए पार्टी अब दागी मंत्रियों के सवाल पर कोई मुरव्वत नहीं बरतेगी। भाजपा नेताओं की शनिवार को लालकृष्ण आडवाणी के घर पर हुई बैठक में तय हुआ कि क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू, कल्याण सिंह, सुशील मोदी और मानवेंद्र सिंह इस मोरचे को संभालेंगे। 

भाजपा नेताओं का एक तबका कल लालू यादव और उनकी पाॢटयों के मंत्रियों के हो-हल्ले से बेहद क्षु4ध है और बैठक में ऐसे मंत्रियों का बहिष्कार करने तक की बात उठी। लेकिन इस बारे में अंतिम फैसला राजग की ७ जून को आयोजित बैठक में किया जाएगा। इस बैठक में सबसे पहले यह बात तय हुई कि राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान पार्टी सदस्य कोई टीका टिप्पणी नहीं करेंगे और शांतिपूर्वक उसे सुना जाएगा। लेकिन राष्ट्रपति के अभिभाषण पर होने वाली बहस के दौरान दागी मंत्रियों के मामले को जोर शोर से उठाया जाएगा। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का मानना है कि इस मामले में नए सांसदों को भी आगे लाया जाए। इस रणनीति के तहत नवजोत सिंह सिद्धू व मानवेंद्र सिंह को आगे रखा गया है। साथ ही, साथ कल्याण सिंह और सुशील मोदी जैसे वरिष्ठ नेता मामले को उठाएंगे।

उधर, मुंबई में भाजपा की राज्य इकाई की दो दिवसीय बैठक में पार्टी ने लोकसभा चुनाव में प्रदर्शन को आधार बनाकर राज्य विधानसभा चुनाव के लिए रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी है। बैठक में गोपीनाथ मुंडे, प्रमोद महाजन, एकनाथ खडसे ने कहा कि पार्टी राज्य में चुनाव को लेकर छोटी पार्टियों से गठबंधन के विरोध में नहीं है।

वहीं, भाजपा अध्यक्ष वेंकैया नायडू ने पार्टी पदाधिकारियों की नियु1ित को लेकर इस बात के संकेत दिए हैं कि संगठन में मामूली फेरबदल किया जाएगा। पार्टी प्रव1ता अरुण जेटली को पार्टी का नया महासचिव बनाया जा सकता है और रविशंकर प्रसाद को पार्टी प्रव1ता की कमान संभालनी पड़ सकती है। वहीं महाजन, नकवी और संजय जोशी अपनी पुरानी भूमिका में ही रहेंगे। कल्याण सिंह, बाल आप्टे, रामदास अग्रवाल और प्यारेलाल खंडेलवाल पार्टी उपाध्यक्ष की भूमिका में रहेंगे। वहीं उ8ार प्रदेश में भाजपा अध्यक्ष के रूप में राजनाथ सिंह की ताजपोशी तय मानी जा रही है।

केसीएफ के पूर्व प्रमुख ने नामांकन दाखिल किया

खालिस्तान कमांडो फोर्स (केसीएफ) के पूर्व प्रमुख और पैंथिक कमेटी के सदस्य वासन सिंह जफरवाल ने शनिवार को शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी निर्वाचन के लिए धारीवाल क्षेत्र से नामांकन दाखिल किया है। जफरवाल ने निर्दलीय उ6मीदवार के रूप में गुरुदासपुर के डीडीपीओ जसपाल सिंह के समक्ष परचा भरा। जफरवाल और उनके समर्थकोंं ने धारीवाल से एक जुलूस निकाला। निर्दलीय उ6मीदवार के रूप में परचा भरने वाले वह गुरदासपुर के एकमात्र उ66ाीदवार हैं। गुरदासपुर जिले में सात निर्वाचन क्षेत्र हैं।

पीडीपी के दो कार्यकर्ता समेत १३ मारे गए

ज6मू-कश्मीर में शुक्रवार की रात से अलग अलग घटनाओं में स8ाारूढ़ पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के दो कार्यकर्ताओं, तीन आतंकवादियों और सेना के एक जवान समेत दस लोग मारे गए हैं। दूसरी ओर पुंछ जिले में शुक्रवार की रात सुरक्षा बलों ने लश्कर-ए-तोइबा के दो आतंकवादियों को मार गिराया। मारे गए आतंकवादियों की पहचान पाकिस्तान के अबू तरीन और अबू हा1सा के रूप में हुई है। उनके पास से बड़ी मात्रा में विस्फोटक और हथियार के अलावा २६ हजार रुपये भी बरामद हुए।उधर, राजोरी जिले में सीमा सुरक्षा बल के एक जवान के राइफल से दुर्घटनावश गोली चल जाने के कारण एक दूसरे जवान की मौत हो गई। आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को इसकी जानकारी दी। सूत्रोंं के मुताबिक, मथयानी चौकी में हवलदार भगवान दास अपनी राइफल साफ कर रहा था कि अचानक गोली चल गई जो कांस्टेबल दानी धर सिन्हा के गले में जा लगी। बाद में उसकी मौत हो गई।

लाल चौक क्षेत्र में अमिराकादल ब्रिज के पास शनिवार को इंडियन रिजर्व पुलिस के वाहन में आतंकवादियों द्वारा फेंके गए हथगोले के नहीं फटने से पांच सुरक्षा अधिकारी बाल-बाल बच गए। इसके अलावा घाटी में सुरक्षा बलों की कार्रवाई में शुक्रवार को भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामद हुए हैं, मगर इस सिलसिले में

Reactions

Post a Comment

0 Comments